साइकिल पोशाक छात्रवृत्ति प्रोत्साहन राशि का पैसा सबके खाते में आया- यहाँ से करें चेक

साइकिल पोशाक छात्रवृत्ति प्रोत्साहन राशि का पैसा सबके खाते में आया- यहाँ से करें चेक

डेढ़ करोड़ बच्चों को 10 के बाद पोशाक – छात्रवृत्ति राशि

साइकिल पोशाक छात्रवृत्ति प्रोत्साहन राशि का पैसा सबके खाते में आया:–पहली से 12 वीं कक्षा के राज्य के डेढ़ करोड़ से अधिक छात्र-छात्राओं को पोशाक- छात्रवृत्ति आदि योजनाओं की राशि का भुगतान दस अक्टूबर के बाद शुरू होगा। शिक्षा विभाग द्वारा इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है। वहीं जिलों के द्वारा छात्र-छात्राओं की सूची को अनुमोदित किये जाने की प्रक्रिया चल रही है, जिसे दस अक्टूबर तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद वित्तीय वर्ष 2023-24 के अंतर्गत विभिन्न योजनाओं की राशि भुगतान को लेकर आदेश जारी किए जाएंगे। राशि डीबीटी के माध्यम से बच्चों के खाते में सीधे भेजी जाएगी।

75% हाजिरी वालों को ही मिलेगा पैसा

पहली से 12 वीं के विद्यार्थियों को पोशाक, छात्रवृत्ति, साइकल और किशोरी स्वास्थ्य योजनाओं के अंतर्गत राशि का भुगतान किया जाना है। इसको लेकर शिक्षा विभाग ने सभी जिलों को कक्षा एक से 12 तक के छात्र- छात्राओं की सूची 30 सितंबर तक मेधा सॉफ्ट पर इंट्री करने को कहा था। इसी क्रम में प्रधानाध्यापक के स्तर से अप्रैल से सितंबर माह तक 75 प्रतिशत उपस्थिति वाले छात्र-छात्राओं को चिह्नित करना था। विभाग ने यह साफ किया है कि 75 प्रतिशत हाजिरी जिन बच्चों की रहेगी, उन्हें ही सरकार की लाभुक योजनाओं की राशि का भुगतान किया जाएगा। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (योजना एवं लेखा) के द्वारा अपने जिले की सूची को अनुमोदित करना है।

शिक्षा विभाग जल्द जारी करेगा आदेश

  • साइकल और किशोरी स्वास्थ्य योजनाओं की राशि का भुगतान भी होगा|
  • छात्र-छात्राओं की सूची 30 सितंबर तक मेधा सॉफ्ट पर डालनी थी|

17 हजार स्कूलों के बच्चों की इंट्री नहीं

राज्यभर के 75 हजार सरकारी स्कूलों में करीब 17 हजार स्कूल ऐसे हैं, जिनकी ओर से बच्चों के नाम की इंट्री का कार्य अभी तक पूरा नहीं किया गया है। इन स्कूलों को लेकर विभाग जल्द ही अलग से दिशा-निर्देश जारी करेगा। मालूम हो कि राज्य के सरकारी विद्यालयों की पहली से 12 दी तक की कक्षा में करीब दो करोड़ छात्र-छात्राएं नामांकित हैं। इनमें पौने दो करोड़ की इंट्री की जा चुकी है। इनमें से कितने विद्यार्थियों की उपस्थिति 75 प्रतिशत या उससे अधिक है, इसकी पहचान की जा रही है। विभागीय पदाधिकारी बताते हैं कि 75 प्रतिशत हाजिरी वाले करीब डेढ़ करोड़ विद्यार्थी होने का अनुमान है।

सूबे में पहली से 12वीं कक्षा तक में पढ़ने वालों के खाते में जाएगा पैसा

25 हजार स्नातक छात्राओं को 50-50 हजार इसी माह

स्नातक उत्तीर्ण राज्य की 25 हजार छात्राओं को इसी माह प्रोत्साहन राशि के रूप में 50-50 हजार रुपये मिलेंगे। यह राशि उनके बैंक खाते में भेजी जाएगी। इसके लिए आवेदनों की जांच कर ली गई है। इन 25 हजार को राशि भुगतान के लिए शिक्षा विभाग 125 करोड़ रुपये की निकासी जल्द से जल्द करने में लगा है।

मुख्यमंत्री बालिका (स्नातक) प्रोत्साहन योजना के तहत उक्त छात्राओं ने आवेदन किये थे, जिनका भुगतान बकाया है। वहीं, स्नातक उत्तीर्ण 51 हजार छात्राओं के नये आवेदन आए हैं। इनके आवेदनों और संबंधित प्रमाणपत्रों की जांच के बाद राशि की स्वीकृति ली जाएगी। एक अप्रैल, 2021 से 31 मार्च, 2023 के बीच स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण छात्राओं को 50-50 हजार की राशि भुगतान को लेकर पोर्टल पर आवेदन मांगे गए थे। इसके लिए 30 सितंबर अंतिम तिथि थी।

विभाग से मिली जानकारी के अनुसार एक लाख आठ हजार स्नातक उत्तीर्ण छात्राएं ऐसी थी, जिनके आवेदन नहीं आए थे। इसके लिए 30 सितंबर तक आवेदन मांगे गये थे, पर इस अवधि में 51 हजार 511 छात्राओं ने ही आवेदन किया है। अब पोर्टल बंद है।

एक लाख बच्चों को दी गयी प्रोत्साहन राशि

बालक-बालिका प्रोत्साहन योजना के तहत प्रथम श्रेणी के उत्तीर्ण और अनूसचित जाति व जनजाति वर्ग के द्वितीय श्रेणी से उत्तीर्ण 10वीं पास विद्यार्थियों के लिए प्रोत्साहन राशि जारी की गयी है. शिक्षा विभाग की आधिकारिक जानकारी के मुताबिक छह अक्तूबर को एकमुश्त एक लाख से अधिक ( 107592) विद्यार्थियों को डीबीटी के जरिये राशि बांट दी गयी है. यह राशि बच्चों के खाते में अलग- अलग डाली गयी है. आधिकारिक जानकारी के मुताबिक वित्तीय वर्ष 2023-24 के दरम्यान इस वर्ग में कुल पात्र विद्यार्थियों की संख्या 5.68 लाख (568359) से अधिक है. इस तरह अभी 4.60 लाख से अधिक विद्यार्थियों की राशि लंबित है.

बालक-बालिका प्रोत्साहन योजना

कक्षा 10वीं में प्रथम श्रेणी उत्तीर्ण बालक बालिकाओं को 10 हजार रुपये प्रति विद्यार्थी और अनुसूचित जाति एवं जनजाति के सेकेंड क्लास में उत्तीर्ण विद्यार्थियों को आठ हजार रुपये दिये जाते हैं. यह राशि साल में केवल एक बार दी जाती है. इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत इंटरमीडिएट उत्तीर्ण प्रोत्साहन योजना के तहत 5.33 लाख बच्चों को राशि दी जानी है. यह राशि प्रति बच्चा 25 हजार रुपये दी जानी हैं. 20 सितंबर तक 3.47 लाख बच्चों को यह राशि बांटी जा चुकी है. शेष 1.85 बच्चों की राशि अभी बकाया है. यह प्रोत्साहन राशि उत्तीर्ण और अविवाहित बालिकाओं को दी जाती है. आधिकारिक जानकारी के मुताबिक बांटी गयी 138 करोड़ की राशि का वितरण वित्तीय वर्ष 2022-23 में बची राशि से कर दिया गया है.

साइकिल पोशाक छात्रवृत्ति प्रोत्साहन राशि का पैसा सबके खाते में आया

 महत्वपूर्ण लिंक  –

Bihar Board Matric Pass Protsahan Rashi CLICK HERE
Bihar Board Inter Pass Protsahan Rashi CLICK HERE
कक्षा 1-12वीं तक के सबका पैसा आयाCLICK HERE
OFFICIAL WEBSITECLICK HERE
Whtsapp ChannelJOIN
TELEGRAM CHANNELJOIN
YOU TUBE CHANNELSUBSCRIBE

Bihar Board Matric Pass Protsahan Rashi सबका पैसा आया यंहा से करें चेक

Aadhar Bank Account Seeded Process(आधार कार्ड बैंक खाते से सीडेड करें )

Bihar Board Matric Pass Protsahan Rashi 2023

कक्षा 1-12वीं तक के सबका पैसा आया- साइकिल पोशाक छात्रवृत्ति

Bihar Post Matric Scholarship 2023-24

Bihar Board Inter Pass Protsahan Rashi सबका पैसा आया यंहा से करें चेक

साइकिल पोशाक छात्रवृत्ति का पैसा के लिए मेधासॉफ्ट का लिस्ट जारी- देखें अपना नाम

5 thoughts on “साइकिल पोशाक छात्रवृत्ति प्रोत्साहन राशि का पैसा सबके खाते में आया- यहाँ से करें चेक”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *